अब गंभीर ने दिखाई अपनी गंभीरता

नई दिल्ली।

गौतम गंभीर ने कहा है कि वे सुकमा में शहीद हुए 25 जवानों के परिवार की पूरी सहायता करेंगे. 24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा में माओवादी हमले में मारे गये सीआरपीएफ के 25 जवानों की मौत के बाद गौतम गंभीर मदद के लिये आगे आये हैं.

सुकमा में शहीद हुए जवानों के लिए जहां एक ओर अभिनेता अक्षय कुमार ने अपने सोशल साइट के जरिए लोगों से जवानों के परिजनों की मदद करने की अपील की है तो वहीं दूसरी ओर भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर भी इस काम में आगे आए हैं.

गौतम गंभीर ने कहा है कि वे सुकमा में शहीद हुए 25 जवानों के परिवार की पूरी सहायता करेंगे. आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तना गौतम गंभीर ने इन जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा उठाने की पेशकश की है. उन्होंने एक अंग्रेजी अखबार के कॉलम में लिखकर कहा है कि वे सुकमा में शहीद हुए 25 सीआरपीएफ जवानों के बच्चों की जिम्मेदारी अपने कंधों पर लेने को तैयार हैं.

क्या लिखा है…
गंभीर ने लिखा है कि बुधवार सुबह जब उन्होंने अखबार पढ़ा तो उनकी नजरें दो तस्वीरों पर पड़ी, जिनमें एक में एक तस्वीर में एक बच्ची अपने शहीद पिता को सलामी दे रही थी तो दूसरी तस्वीर में शहीद की पत्नी को उसके रिश्तेदार संभालते हुए नजर आ रहे थे. इन दो तस्वीरों को देखकर गौरम गंभीर काफी परेशान हुए और उन्होंने सभी जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा उठाने का ऐलान कर दिया है. इन बच्चों की पढ़ाई का खर्चा गौतम गंभीर फाउंडेशन उठाएगा.

गंभीर ने कहा है कि उन्होंने कहा उनकी टीम ने इस पर काम करना शुरू कर दिया है और जल्दी ही वे इस पर हुई प्रगति से अवगत कराएंगे. गंभीर ने बताया कि वे इस खबर को पढ़कर इतने आहात हुए कि वे मैच में कंसंट्रेट नहीं थे. गौरतलब है कि 26 अप्रैल की रात को राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ मैच में गंभीर ने कलाई में काली पट्टी लगाकर सीआरपीएफ जवानों को सम्मान दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *