नांदगांव एसपी रहे प्रशांत और संतोष को मिली प्रशंसा

शेयर करें...

नेशन अलर्ट/रायपुर.

मुख्‍यमंत्री द्वारा आज ली गई पुलिस अधीक्षकों की बैठक में राजनांदगांव जिले में पदस्‍थ रहे दो पुलिस अधीक्षक (एसपी) के कामकाज को सराहा गया। इसके अलावा सुकमा में एंटी नक्‍सल ऑपरेशन के लिए एसपी सुनील शर्मा की भी प्रशंसा की गई।

उल्‍लेखनीय है कि प्रशांत अग्रवाल इन दिनों रायपुर के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) हैं। रायपुर में पदस्‍थ रहने के दौरान अग्रवाल द्वारा लॉ एंड ऑर्डर को लेकर उठाए गए उनके कदमों को आज मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सराहा।

इसी तरह इन दिनों कोरबा एसपी संतोष सिंह और सुकमा एसपी सुनील शर्मा के भी काम सराहे गए। संतोष जिन दिनों राजनांदगांव एसपी हुआ करते थे उन दिनों महिलाओं और कम्‍यूनिटी पुलिसिंग के लिए उनके द्वारा लिए गए निर्णय सराहे गए। जबकि एंटी नक्‍सल ऑपरेशन को बेहतर तरीके से संचालित करने के मामले में सुनील शर्मा की प्रशंसा की गई।

उल्‍लेखनीय है कि प्रशांत राजनांदगांव जिले के 30वें पुलिस अधीक्षक हुआ करते थे। राजनांदगांव एसपी का कार्यकाल प्रशांत अग्रवाल का 3 जून 2016 से 31 जुलाई 2018 तक का था। इसी तरह आईपीएस संतोष सिंह ने 35वें एसपी के रूप में राजनांदगांव में 6 जनवरी 2022 से 9 जुलाई 2022 तक का कार्यकाल व्‍यतीत किया। संतोष के सराहनीय कार्यों को लेकर राज्‍य सरकार उन्‍हें कोरबा एसपी बनाकर ले गई।

बहरहाल, आज मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा ली गई राज्‍य के सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों की बैठक में तीन थानों के भी कार्यों को सराहा गया। इनमें रायगढ़ जिले का कोतवाली थाना और नारायणपुर का कोहकामेटा थाना शामिल है। मुख्‍यमंत्री व गृहमंत्री के गृह जिले दुर्ग के पाटन थाने के भी काम को सराहना मिली है।

पुलिस में साप्‍ताहिक अवकाश शुरू होगा

इधर आज की बैठक में मुख्‍यमंत्री ने सभी जिलों में पुलिसकर्मियों को साप्‍ताहिक अवकाश देना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उल्‍लेखनीय है कि पुलिसकर्मियों की इस मांग को पूरी करना कांग्रेस के घोषणा पत्र में भी शामिल था। अभी प्रदेश के कुछ ही जिलों में साप्‍ताहिक अवकाश दिया जा रहा है। शेष जिलों में इसे व्‍यवहारिक रूप में लागू नहीं किया गया है। मुख्‍यमंत्री ने महानिरीक्षकों को निर्देश दिए हैं कि इसकी समीक्षा कर सभी जिलों में इसे लागू करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.