शिकायत के चलते दो प्राचार्य हटाए गए

शेयर करें...

नेशन अलर्ट/रायपुर.

उच्‍च शिक्षा विभाग ने आज प्राचार्यों की तबादला सूची जारी की है। 30 सितंबर की तिथि पर 8 अक्‍टूबर को जारी हुई सूची में दो प्राचार्य शिकायत के चलते हटा दिए गए हैं। जबकि तीन का स्‍वयं के व्‍यय पर और एक का स्‍वैच्छिक स्‍थानांतरण किया गया है।

जिन प्राचार्यों को शिकायत के चलते हटाया गया है उनमें श्रीमति रेखारानी राजपूत को डॉ.भंवरसिंह पोर्ते शासकीय महाविद्यालय पेंड्रा जिला गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से शासकीय नवीन महाविद्यालय सारागांव स्‍थानांतरित किया गया है।

इसी तरह डॉ.आईपी गुप्‍ता जो कि वीरांगना अवंतीबाई लोधी शासकीय महाविद्यालय पथरिया जिला मुंगेली में प्राचार्य के पद पर पदस्‍थ थे शिकायत के बाद वहां से स्‍थानांतरित कर शासकीय महाविद्यालय जनकपुर जिला कोरिया में पदस्‍थ किए गए हैं।

स्‍वैच्छिक स्‍थानांतरण में डॉ.श्‍यामलाल निराला का नाम शामिल है। इन्‍हें नवीन शासकीय महाविद्यालय सकरी जिला बिलासपुर से शासकीय जेपी वर्मा स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय बिलासपुर में पदस्‍थ किया गया है। स्‍वयं के व्‍यय पर जिन प्राचार्यों का स्‍थानांतरण हुआ है उनमें एसएस अग्रवाल जिला सूरजपुर से जिला अंबिकापुर, डॉ.श्रीमति एआरसी जेम्‍स गरियाबंद से बलौदाबाजार, डॉ.राजेश कुमार दुबे खरोरा जिला रायपुर से भाटागांव जिला रायपुर भेजे गए हैं।

आपसी सहमति के आधार पर भी दो प्राचार्य इधर उधर किए गए हैं। इनमें डॉ.एसआर कमलेश जो कि शासकीय ई राघवेंद्र राव विज्ञान महाविद्यालय बिलासपुर में पदस्‍थ थे को शासकीय बिलासा कन्‍या स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय बिलासपुर में पदस्‍थ किया गया है। इसी तरह श्रीमति ज्‍योति रानी सिंह को शासकीय बिलासा कन्‍या स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय से ई राघवेंद्र राव विज्ञान महाविद्यालय बिलासपुर में पदस्‍थ किया गया है।

तीन ग्रंथपाल भी बदले गए

इसी तरह तीन ग्रंथपालों का भी स्‍थानांतरण स्‍वयं के व्‍यय पर किया गया है। इनमें डॉ.क्षमा ठाकुर को शासकीय इंद्रु केंवट कन्‍या महाविद्यालय कांकेर से कन्‍या महाविद्यालय नारायणपुर, श्रीमति जयश्री मंडल को रामानुज प्रताप सिंहदेव स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय बैकुंठपुर से दंतेश्‍वरी महिला महाविद्यालय जगदलपुर व श्रीमति चंद्रकांति वर्मा को नारायणराव मेघावले कन्‍या महाविद्यालय धमतरी से डॉ.राधाबाई कन्‍या महाविद्यायल रायपुर भेजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.