हैप्पी बर्थडे टू ओडि़सा, आज ही के दिन बना था

भुवनेश्वर।

देश-विदेश में रह रहे उडिय़ा समुदाय के लोगों ने शनिवार को उत्कुल दिवस मनाया। उत्कल दिवस उड़ीसा राज्य के गठन के उपलक्ष्य में मनाया जाता है, जिसे आज ओडिशा के रूप में जाना जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर ओडिशा के लोगों को बधाई दी है। ओडिशा राज्य की संपन्न संस्कृति और यशस्वी इतिहास का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट संदेश में लिखा, ओडिशा के लोग मेहनती हैं और उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में अपनी क्षमता का प्रदर्शन कर यह बात साबित की है। मैं उनके उज्जवल भविष्य और उन्नति की कामना करता हूं।

उपराष्ट्रपति एम. हामिद अंसारी ने लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा, ओडिशा की एक संपन्न विरासत है, जो यहां के विविधरंगी स्मारकों, कला, मूर्तियों, साहित्य, नृत्य और संगीत में झलकती है।

उपराष्ट्रपति ने कहा कि राज्य प्राकृतिक संपदाओं और अपने औद्योगिक लोगों से भरपूर है, और मैं सुनिश्चित हूं कि ओडिशा अपनी आर्थिक और सामाजिक उन्नति में लगातार आगे बढ़ता रहेगा।

राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी राज्य के लोगों को इस महत्वपूर्ण दिन पर शुभकामनाएं दीं। अपने एक ट्वीट संदेश में मुख्यमंत्री पटनायक ने लिखा, हमारा उद्देश्य राज्य को देश में प्रगतिशील राज्य बनाना है।

ओडिशा राज्य का स्थापना दिवस प्रत्येक वर्ष एक अप्रैल को मनाया जाता है। इसी दिन वर्ष 1936 में इसे बंगाल-बिहार-उड़ीसा नामक संयुक्त से अलग कर बनाया गया था। प्राचीन समय में ओडिशा को उत्कल के नाम से जाना जाता था, जो कलिंग वंश का हिस्सा था।इस ऐतिहासिक दिन के उपलक्ष्य में राज्य भर में विभिन्न रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *