पत्रकारों का धरना : बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे…

नेशन अलर्ट, 97706-56789.
रायपुर.

भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय एकात्म परिसर में पत्रकार से हुई मारपीट के खिलाफ पत्रकारों का धरना प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी रहा. बोल कि लब आज़ाद हैं तेरे की तर्ज पर संबोधन करने वाले पत्रकारों ने खुलकर भाजपा की गुंडागर्दी की निंदा की.

अब यह आंदोलन प्रदेश स्तर का हो गया है. दरअसल, जगह-जगह धरना प्रदर्शन किया जा रहा है. जगदलपुर संभागीय मुख्यालय में पत्रकार साथियों ने अपनी एकजुटता दिखाते हुए धरना दिया.

इधर, कोंडागांव के पत्रकारों ने पांच फरवरी को नगर बंद का आह्वान किया है. इस संबंध में उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन भी सुपुर्द कर दिया है. कोंडागांव के भी पत्रकार भाजपा के अभद्र व्यवहार से बेहद रुष्ट हैं.

बिलासपुर के नेहरु चौक में पत्रकारों ने एक दिवसीय धरना दिया. उन्होंने मांग की है कि भाजपा संगठन ऐसे पदाधिकारियों को संगठन से बाहर करे. उन्होंने यह भी कहा है कि जब तक आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा.

रमन राज में ढाई सौ पत्रकारों पर जुर्म दर्ज

रायपुर के मोतीबाग में धरने के तीसरे दिन विभिन्न राजनीतिक दलों के पदाधिकारी पहुंचे थे. पत्रकारों के धरने का संबोधित करते हुए राजकुमार सोनी ने पूर्ववर्ती रमन सरकार को जमकर लताड़ा.

उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि जब मैं इस तरह की आवाज उठाता था तो यही पत्रकार साथी मुझे डराते थे. वो कहते थे कि आप रमन सिंह के खिलाफ, अमन सिंह के खिलाफ, मुकेश गुप्ता के खिलाफ क्यों बोलते हैं? अब जाकर पत्रकारों को समझ आया होगा.

सोनी ने रमन राज को भी आड़े हाथों लिया. उन्होंने रमन सिंह को चेतावनी दी कि ढाई सौ पत्रकारों पर उनके रहते हुए जुर्म दर्ज किया गया. पांच पत्रकारों की हत्या हुई. उन्होंने पत्रकारों के इस आंदोलन को अपना पूर्ण समर्थन दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *