सलाम, लूनिया के साथ स्टेनो संजय देवांगन भी विवादों में

नेशन अलर्ट / 9770656789
रायपुर.

जिला पंचायत राजनांदगांव की स्थानांतरित मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमति तनुजा सलाम, सप्लायर सौरभ लूनिया के साथ अब स्टेनो संजय देवांगन भी विवादों में घिर गए हैं. उन पर आरोप है कि उन्होंने श्रीमति सलाम के नाम से जमकर अवैध वसूली की है.

उल्लेखनीय है कि श्रीमति सलाम का तबादला अभी हाल ही में राजनांदगांव जिले से सरगुजा कर दिया गया है. उनके स्थान पर पदस्थ किए गए आईएएस अजीत वसंत ने यहां कार्यभार संभाल भी लिया है.

उनके कार्यभार संभालते ही जिला पंचायत में एक लेटरबम फूटा है जिसमें सलाम के सहयोगी के रूप में सौरभ लूनिया व स्टेनो संजय देवांगन के नाम चर्चा में है.

क्या सौरभ का साथी है संजय ?

कथित तौर पर जिला पंचायत राजनांदगांव के अधिकारी कर्मचारियों के नाम से प्रेषित किए गए पत्र में तनुजा सलाम के अलावा जिन दो व्यक्तियों का नाम सामने आया है वह सौरभ लूनिया और स्टेनो संजय देवांगन का है.

बताया जाता है कि सौरभ लूनिया ने श्रीमति सलाम के इशारे पर अधिकारी कर्मचारियों को न केवल डराया धमकाया बल्कि स्टेनो संजय देवांगन के साथ मिलकर जिला पंचायत के एक दो अन्य कर्मचारियों का साथ लेकर ग्राम पंचायत स्तर तक अवैध वसूली भी की है.

अब सवाल इस बात का उठता है कि क्या स्टेनो संजय देवांगन नियम कायदे कानून से परे जाकर श्रीमति सलाम और उनके खासमखास सप्लायर रहे सौरभ लूनिया के लिए काम कर रहे थे ? सौरभ लूनिया के साथ क्या कोई संबंध संजय देवांगन का बनता है?

बहरहाल इस पर से पर्दा एक उच्च स्तरीय जांच के बाद ही उठ पाएगा. बताया तो यह तक जाता है कि श्रीमति सलाम के कार्यकाल से प्रभारी मंत्री भी बेहद आक्रोशित हैं.

इधर मामले में गंभीर आरोपों से घिरे स्टेनो संजय देवांगन कहते हैं कि ऐसा कुछ भी नहीं है. वह न किसी पत्र की जानकारी होने की बात करते हैं और न ही लेनदेन के आरोप स्वीकारते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *