कांकेर कांड : 16 पृष्ठ के मूल प्रतिवेदन सहित 450 पृष्ठ के अन्य दस्तावेज शामिल

पत्रकारों के जांच दल ने मुख्यमंत्री को सौंपी रपट

नेशन अलर्ट / 97706 56789
रायपुर
.

कांकेर के पत्रकार सतीश यादव, कमल शुक्ला के साथ कांग्रेस से जुडे़ नेताओं द्वारा की गई मारपीट की जांच पत्रकारों के दल ने पूरी कर ली है. जांच दल ने आज अपनी रपट मुख्यमंत्री के सुपुर्द की.

इस जांच दल की घोषणा बीते दिनों मुख्यमंत्री ने की थी. उच्चस्तरीय पत्रकार जांच दल में नवभारत रायपुर के संपादक राजेश जोशी, आज की जनधारा रायपुर के संपादक अनिल द्विवेदी, बस्तर इम्पेक्ट दंतेवाड़ा के संपादक सुरेश महापात्र,राष्ट्रीय हिंदी मेल की सहायक संपादक सुश्री शगुफ्ता शीरीन, स्वराज्य एक्सप्रेस के संवाददाता रूपेश गुप्ता के अलावा दैनिक भास्कर कांकेर के ब्यूरो चीफ राजेश शर्मा शामिल किए गए थे.

हालांकि राजेश शर्मा ( कांकेर ) के नाम पर कमल शुक्ला ने सवाल उठाए थे. वे इस जांच दल में शामिल नहीं हो पाए. बताया जाता है कि वह इन दिनों कोरोना पीडित होने के चलते क्वारेंटीन हैं. इस कारण जमीनी तहकीकात जांचने कांकेर गए पत्रकारों के जांच दल में शामिल नहीं हो पाए.

कांकेर गए पत्रकारों के दल ने जमीं पर जो भी तहकीकात की उसकी जानकारी फोन के माध्यम से राजेश शर्मा को देते हुए उनकी सहमति ली गई. इधर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में पत्रकारों के जांच दल ने मुलाकात की.

कांकेर पत्रकारों के साथ हुई घटना से संबंधित तथ्यों के अन्वेषण हेतु राज्य शासन द्वारा गठित की गई उच्च स्तरीय जांच दल ने मुलाकात कर उन्हें अपनी रिपोर्ट सौंप दी. मुख्यमंत्री ने बस्तर के पुलिस महानिरीक्षक को जांच रिपोर्ट भेजते हुए इसका परीक्षण कर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *