हाथरस का जवाब कोंडागांव में देने की रणनीति में भाजपा

नेशन अलर्ट / 97706 56789

रायपुर.

हाथरस ( यूपी ) का जवाब भाजपा ने कोंडागांव ( छत्तीसगढ़ ) के रुप में कांग्रेस को देने की रणनीति पर काम करना शुरु कर दिया है. संभवतः इसकी कमान प्रदेश भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने संभाल ली है जिसमें एक तरफ विष्णुदेव साय हैं तो दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह.

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के बयान से यह साफ हो चला है कि बस्तर संभाग के इस गैंगरेप कांड पर भाजपा प्रदेश सरकार को घेरने की तैयारी में है.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में कांग्रेस ने हाथरस घटना के खिलाफ प्रदेशस्तरीय धरना प्रदर्शन किया था. कोंडागांव गैंगरेप की घटना उजागर होने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री रमन ने जो बयान दिया है वह कांग्रेस सरकार घेरने वाला बताया जा रहा है.

छग की ओर भी देखें राहुल

राष्ट्रीय भाजपा उपाध्यक्ष डा. सिंह ने बलात्कार जैसे मसले पर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व पर ही सवाल खडे़ किए हैं. उन्होंने आंकडे़ बताते हुए कहा कि राहुल गांधी को छत्तीसगढ़ की ओर भी इस विषय पर ध्यान देना चाहिए.

डेढ़ दशक तक प्रदेश के मुखिया रहे डा. सिंह ने कहा कि युवती का 7 लड़कों ने बलात्कार किया था. पुलिस ने इस मामले में रुपए लेकर युवकों को छोड़ दिया. इस बात से दुखी होकर उस युवती ने जान दे दी थी.

डा. सिंह ने कहा कि कांग्रेस के बड़े नेताओं को छत्तीसगढ़ की ओर भी देखना चाहिए. पिछले 9 महीने में 1500 से ज्यादा बलात्कार छत्तीसगढ़ में हुए हैं.

कब क्या हुआ था ?

कोंडागांव जिले में केशकाल के ओड़ागांव की एक युवती से यह मामला जुड़ा हुआ है. इसकी सहेली ने दावा किया कि करीब तीन महीने पहले वो लोग कानागांव में आयोजित एक शादी समारोह में शामिल होने एक साथ गए थे.

सहेली के दावे के अनुसार वहां शादी में देर रात तक नाच-गाना चला. इसी दौरान कानागांव और फूंडेर गांव के सात युवकों ने उसकी सहेली को शादी वाले घर से उठा लिया. उसे जंगल की ओर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया.

घटना के दो दिनों बाद युवती ने आत्महत्या कर ली थी. पुलिस ने पिछले तीन महीनों में न तो मामले में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज की थी और न ही इस तरह की कोई जांच की.

उसी सहेली के द्वारा आवाज उठाए जाने पर अब जाकर पुलिस हाथपैर मारते दिखाई दे रही है. युवती के शव को कब्र से पोष्टमार्टम के लिए निकलवाया गया है.

इस मामले पुलिस ने कुछ को हिरासत में ले लिया है. आत्महत्या करने वाली युवती के पिता ने भी 4 अक्टूबर को घर में पड़ा कीटनाशक खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था.

हालांकि परिजनों ने पिता को समय रहते हास्पिटल पहुंचा दिया, जिससे उनकी जान बच गई. घटना में कार्रवाई ना होने से दुखी होकर उसने इच्छा मृत्यु की मांग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *